पिपलिया मंडी का प्रसिद्ध बालाजी मंदिर. मनासा रोड पर स्थित यह मंदिर जनमानस के लिए आस्था का केंद्र है..

यह मंदिर अपनी चमत्कारिक प्रसिद्धि के कारण शनेः शनेः लगातार ख्याति प्राप्त कर रहा है। ऐसी मान्यता है कि यह मंदिर काफी प्राचीन है और यहां विराजित चमत्कारिक मूर्ति टीले से निकली होने के कारण इसका नाम टिलाखेड़ा बालाजी हो गया। यहां के पुजारी नानक रामजी अग्रवाल हुआ करते थे। चमत्कारिक मूर्ति होने से यहाँ लगातार श्रद्धालुओं की संख्या में वृद्धि हो रही है। पिछले सालों में श्रद्धालुओं ने यहां 41 फुट ऊँचा शिखर बनवा कर स्वर्ण कलश भी चढ़ाया है। प्रतिवर्ष यहां से पशुपतिनाथ मंदिर तक कावड़ यात्रा भी निकाली जाती है। प्रत्येक सावन मास के दूसरे सोमवार को निकलने वाली इस कावड़ यात्रा में बड़ी संख्या में कावड़िये और भोले भक्त पैदल मन्दसौर पहुंचकर भगवन बम बम भोले की गूंज के साथ पशुपतिनाथजी का जलाभिषेक करते है।

साभार: पत्रकार-कमलेश जैन

टीलाखेड़ा बालाजी
Photo Credit: Naman Borana

कृपया टिपण्णी करें

comments